हफ्ता वसूलने के मामले में मुंबई का फर्जी पत्रकार गिरफ्तार

मुंबई पुलिस ने एक नकली पत्रकार को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार पत्रकार पर आरोप है कि वो पत्रकार के नाम पर मुंबई और उसके आस पास के शहरों के व्यवसाई को डरा धमका कर हफ्ता वसूली का काम करता था। गिरफ्तार पत्रकार मुंबई में एक साप्ताहिक पेपर का संपादक है। जिसकी पहचान राजाराम जैसवाल के तौर पर हुई है। और वो मुंबई के गोवंडी का रहने वाला है। इसके ऊपर मुंबई के दर्जनों पुलिस स्टेशन में गंभीर मामले दर्ज है। 

पुलिस की  माने तो 25 जुलाई के दिन चूनाभट्टी का रहने वाला मोहम्मद शेख अपने ट्रक में भरकर गेहूं डिलीवरी कर ने जा रहे थे। तभी गिरफ्तार पत्रकार अपने इंडिका कार से चूनाभट्टी सर्किल के पास पहुंचा। वहां पर पहले से ही पत्रकार राजाराम के कुछ साथी मौजूद थे। वहां पर आरोपी पत्रकार ने मोहम्मद शेख की गाडी को रोक कर यह रेशनिंग का माल बताकर उसे पुलिस स्टेशन में पकड़वाने की धमकी देकर 10 लाख रूपए की मांग कर रहे थे। आखिर कार साढ़े 3 लाख में सौदा तय होने के बाद मोहम्मद शेख ने अपने परिचित के व्यक्ति से ढाई लाख रुपए मांगकर दिए। उसके बाद बाकी के 1 लाख बाद में देने की बात हुई। 1 लाख रुपये नही दिए जाने पर राजाराम लगातार फोन कर धमकी देना शुरू किया। जिसके बाद मोहम्मद शेख ने 11 नंबर को चूनाभट्टी पुलिस स्टेशन में पत्रकार के खिलाफ लिखित में शिकायत दर्ज करवाई। 

जिसके बाद पुलिस मामले की जांच में जुटी जांच में पुलिस को पत्रकार के सच्चाई के बारे में मालुम पड़ा और उसके खिलाफ पुलिस मामला दर्ज कर लिया।  इसी बीच पुलिस को सूचना मिली की  राजाराम थाने पाँचपखाडी में आने वाला है। इसके बाद पुलिस निरीक्षक सुनील भोसले के मार्गदर्शन में उपनिरीक्षक धनंजय मारने की टीम ने पाचपाखड़ी में जाल बिछाकर उसे गिरफ्तार किया। 

इस दौरान राजाराम पुलिस को अपने बड़े बड़े अधिकारियों से पहचान होने का झांसा देकर देख लेने की धमकी देते हुए भागने की कोशिश कर रहा था। लेकिन ठाणे शहर पुलिस की मदद से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। प्राथमिक जांच में पाया गया है की राजाराम के खिलाफ मानखुर्द,देवनार,ट्राम्बे,थाने के वर्तक नगर,और पुणे, तलेगांव में इस तरह के कई मामले दर्ज है।
          

  • Mumbai
  • Fake Journalist Arrested
  • Chunabhatti police
  • Journalist
  • rajaram Jaiswal
  • ledeindia